चावल-अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में भाव मजबूत

चावल के अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भाव फिर से मजबूत हो गए हैं। पिछले पखवाड़े में बासमती प्रजाति के सेला चावल की मांग में ठहराव देखा गया था। अब, समुद्री मार्गों में स्थिरता आने के साथ, बाजार में सुधार की संभावनाएँ बढ़ रही हैं। ईरान, जो भारतीय सेला चावल का सबसे बड़ा आयातक है, अगर सुचारू रूप से आयात जारी रखता है तो बाजार में और वृद्धि हो सकती है। हालांकि, घरेलू मंडियों में धान की उपलब्धता और वर्तमान भाव को देखते हुए, मंदी की संभावना कम है। वर्तमान में, 1509 सेला चावल की कीमत 6350/6400 रुपए प्रति क्विंटल है, जो व्यापार के लिए उचित लग रही है और इसमें ज्यादा जोखिम नहीं दिखता है। इस समय के बाजार के रुझानों को देखते हुए, यह सुझाव दिया जा रहा है कि व्यापारी वर्तमान भाव पर चावल का व्यापार जारी रखें।

Insert title here